मेम्बर बने :-

मित्र मंडली

इस पोस्ट में मेरे ब्लॉग के फॉलोवर/अनुसरणकर्ता के हिंदी पोस्ट के लिंक के साथ उस पोस्ट के प्रति मेरी भावाभिव्यक्ति सलंग्न रहती है। पोस्ट का चयन साप्ताहिक आधार पर होता है।

मित्र-मंडली प्रकाशन का उद्देश्य मेरे मित्रों की रचना को ज्यादा से ज्यादा पाठकों  तक पहुँचाना है। 

आप सभी पाठकगण से निवेदन है कि दिए गए लिंक के पोस्ट को पढ़ कर टिपण्णी के माध्यम से अपने विचार जरूर लिखें। यकीं करें ! आपके द्वारा दिया गया विचार लेखकों के लिए अनमोल होगा।  

प्रार्थी 

राकेश कुमार श्रीवास्तव "राही"
_________________________________________________________________

पुराने मित्र मंडली अंक 1 से  39 देखने के लिए क्लिक करें। 

_________________________________________________________________

मित्र मंडली  -110
Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers
इस सप्ताह के छह रचनाकार 

अभिलाषा चौहान जी 

नापाक को पाक करो 

अनमोल जीवन के प्रति लापरवाही, पछताने का मौक़ा भी नहीं देगी 

सतीश सक्सेना जी 

लम्बी खींचने वालों की छोड़ ‘उलूक’ तुझे अपने कुर्ते को खुद ही खींच कर खुद का खुद ही ढकना है

सुशील कुमार जोशी  जी 

तुम आओ न..

 शशि गुप्ता जी 

वतन के नाम

पंकज भूषण पाठक जी



श्वेता सिन्हा जी 

जीवन काल चक्र का उद्देश्य क्या? इसका उत्तर पाना मानव सभ्यता के विकास के साथ और जटिल होता जा रहा है, परन्तु शान्तिपूर्ण जीवन जीने के लिए  प्रयास के अलावा मानव के पास और कोई रास्ता भी नहीं। आत्ममंथन को मजबूर करती सुन्दर भावपूर्ण प्रस्तुति।

एक सवाल ???

कामिनी सिन्हा जी 

हमारी मातृभूमि

अनुराधा चौहान जी 

कल,आज और कल

अभिलाषा चौहान जी 

लिखूँ अगर समझ पाओ तो

सुप्रिया पाण्डेय   जी 

निरंकुश मीडिया बर्बाद कर देगा इस शानदार देश को,समाज को 

सतीश सक्सेना जी 

प्रार्थना

मीना शर्मा जी 

ख़ामोशी तलाशती है शब्द

अनीता सैनी  जी 

पहचान

अनुराधा चौहान जी 

श्वेता सिन्हा जी 

प्रकृति एवं स्त्री के गुण समान और इसी की गुणगान करती सुन्दर रचना।

# कब तक भला किसके लिए #

राजीव सिंह जी

अंत में ....

मेरी प्रस्तुति  :

 
नारी - हिम्मत कर हुंकार तू भर ले

Featured post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers
Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers



मित्र मंडली - 113
Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers
इस सप्ताह के पाँच रचनाकार 

हजार के ऊपर चार सौ और हो गयी बकवासें ‘उलूक’ के पागलखाने की

सुशील कुमार जोशी  जी 

यादों के हवाले

लोकेश नशीने जी 

मरुधर में बोने सपने हैं

कैलाश शर्मा जी 

जीवन संघर्ष को आत्मसात करती भावपूर्ण रचना। 

तानसेन



मित्र मंडली - 114
Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers
इस सप्ताह के छह रचनाकार 

अभिलाषा चौहान जी 

सुन उद्धव अभिमानी

आँचल पाण्डेय जी 

कविता सिर्फ शब्द नही होती

कुसुम कोठारी जी 

बाल कविता " रंग बिरंगे फूल "

राधा तिवारी  जी  

अथ होली ढूंढ़ा कथा

कविता  रावत जी  

भूले-बिसरे पौराणिक कथा को पुनर्जीवित करती रोचक प्रस्तुति।

सुशील कुमार जोशी  जी 

‘उलूक’ हर दिन अपने आईने में देखता है चेहरे पर लिखा अप्रैल फूल होता है

सुशील कुमार जोशी  जी 

तू गा रे ! साँझ सकारे !!!

मीना शर्मा जी 

श्वेता सिन्हा जी 

परुष-प्रधान समाज में पुरुष-स्त्री  चरित्र पर दोयम राय रखने पर  स्त्री के मनःस्थिति को उजागर करती  सुन्दर भाव पूर्ण प्रस्तुति।

"उसूल"

मीना भारद्वाज  जी 

शब्द शक्ति

आँचल पाण्डेय जी 

हिंदी की हत्या के विरुद्ध!


विश्व मोहन जी

बन रे मन तू चंदन वन

कुसुम कोठारी जी 

बिगुल बज उठा

अनुराधा चौहान जी 

आकुल रश्मियाँ

श्वेता सिन्हा जी 

अँधेरे में रौशनी फैलाती और नारी की जज्बातों को व्यक्त करती भावपूर्ण रचना।


मौसम है सुहाना दिल का


लोकेश नशीने जी 

चुप्पी

पुरुषोत्तम कुमार सिन्हा जी 

स्वांग

 शशि गुप्ता जी 

एक कहानी अनजानी !

मीना शर्मा जी 

"उस पार"

मीना भारद्वाज  जी 

मछुआरों की तंगहाली और मजबूरियों को आत्मसात करती भावपूर्ण रचना।

श्वेता सिन्हा जी 

प्यार के सुखद पल एवं स्त्री के कोमल भावनाओं को व्यक्त करती सुंदर भावपूर्ण रचना।

बेटी----माटी सी

काठमांडू, पशुपति-निवास हूँ!

विश्व मोहन जी

कहीं हम न हैं

पुरुषोत्तम कुमार सिन्हा जी 

गीत उगाए हैं !!!

मीना शर्मा जी 

मैं समाना चाहती हूँ


श्वेता सिन्हा जी 

स्त्री प्रेम की पराकाष्ठा को स्थापित करती अद्भूत रचना। 

अजगर - ए - ' आजम '

विश्व मोहन जी

बेटियां

कैलाश शर्मा जी 

ललकी की पाती सीएम के नाम

 शशि गुप्ता जी 



No comments:

Post a Comment

मेरे पोस्ट के प्रति आपकी राय मेरे लिए अनमोल है, टिप्पणी अवश्य करें!- आपका राकेश कुमार "राही"