मेम्बर बने :-

Wednesday, May 23, 2018

MEME SERIES - 8


Biweekly Edition (पाक्षिक संस्करण) 23 May'2018 to 05 June'2018

मीम (MEME)

"यह एक सैद्धांतिक इकाई है जो सांस्कृतिक विचारों, प्रतीकों या मान्यताओं आदि को लेखन, भाषण, रिवाजों या अन्य किसी अनुकरण योग्य विधा के माध्यम से एक मस्तिष्क से दूसरे मस्तिष्क में पहँचाने का काम करती है। "मीम" शब्द प्राचीन यूनानी शब्द μίμημα; मीमेमा का संक्षिप्त रूप है जिसका अर्थ हिन्दी में नकल करना या नकल उतारना होता है। इस शब्द को गढ़ने और पहली बार प्रयोग करने का श्रेय ब्रिटिश विकासवादी जीवविज्ञानी रिचर्ड डॉकिंस को जाता है जिन्होने 1976 में अपनी पुस्तक "द सेल्फिश जीन" (यह स्वार्थी जीन) में इसका प्रयोग किया था। इस शब्द को जीन शब्द को आधार बना कर गढ़ा गया था और इस शब्द को एक अवधारणा के रूप में प्रयोग कर उन्होने विचारों और सांस्कृतिक घटनाओं के प्रसार को विकासवादी सिद्धांतों के जरिए समझाने की कोशिश की थी। पुस्तक में मीम के उदाहरण के रूप में गीत, वाक्यांश, फैशन और मेहराब निर्माण की प्रौद्योगिकी इत्यादि शामिल है।"- विकिपीडिया से साभार.

MEME SERIES - 8

By looking at this picture you might be having certain reaction in your mind, through this express your reaction as the title or the  caption. The selected title or caption of few people will be published in the next MEME SERIES POST.

इस तस्वीर को देख कर आपके मन में अवश्य ही किसी भी प्रकार के प्रतिक्रिया उत्पन्न हुई होगी, तो उसी को शीर्षक(TITLE) या अनुशीर्षक(CAPTION)के रूप में व्यक्त करें। चुने हुए शीर्षक(TITLE) या अनुशीर्षक(CAPTION)को अगले MEME SERIES POST में प्रकाशित की जाएगी।

Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers

***********************************************************************************************************

The next edition will be published on JUNE 06, 2018. If you have similar type of picture on your blog, leave a link of your post in my comments section. I will link your posts on my blog in the next edition. Thank you very much dear friends for all your valuable captions for MEME SERIES-7 . Your participation and thoughts are deeply appreciated by me. Some of the best captions are listed below.

अगला संस्करण 06 जून , 2018 को प्रकाशित किया जाएगा। यदि आपके ब्लॉग पर इस तरह की कोई तस्वीर है, तो अपने पोस्ट का लिंक मेरी टिप्पणी अनुभाग में लिख दें। मैं अगले संस्करण में अपने ब्लॉग पर आपका पोस्ट लिंक कर दूंगा। मेरे प्रिय मित्रों, आपके सभी बहुमूल्य शीर्षक(TITLE) या अनुशीर्षक(CAPTION) के लिए धन्यवाद। MEME SERIES-7 के पोस्ट पर आपकी भागीदारी और विचारों ने मुझे बहुत प्रभावित किया, उनमें से कुछ बेहतरीन कैप्शन नीचे उल्लेखित हैं। 

Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers

MEME SERIES-7 के बेहतरीन कैप्शन

बोझ तुम्हारा मेरे सपने---------सुशील कुमार जोशी (SKJoshi)


जीवन का बोझ उठाते सब
हम जहां का बोझ उठाते हैं। ----------------Kusum Kothari

जीवन का सफर है अनवरत जारी
झुकी पीठ ख्वाहिशों का बोझ भारी---------------------sweta sinha 


बोझ से दबी ज़िंदगी-------------------------------------------------Ravindra Singh Yadav

Monday, May 21, 2018

मित्र मंडली -70





मित्रों , 
"मित्र मंडली" का  सत्तर  वाँ अंक का पोस्ट प्रस्तुत है।इस पोस्ट में मेरे ब्लॉग के फॉलोवर्स/अनुसरणकर्ताओं के हिंदी पोस्ट की लिंक के साथ उस पोस्ट के प्रति मेरी भावाभिव्यक्ति सलंग्न है। पोस्टों का चयन साप्ताहिक आधार पर किया गया है। इसमें दिनांक 14.05.2018  से 20.05.2018 तक के हिंदी पोस्टों का संकलन है।


पुराने मित्र-मंडली पोस्टों को मैंने मित्र-मंडली पेज पर सहेज दिया है और अब से प्रकाशित मित्र-मंडली का पोस्ट 7 दिन के बाद केवल मित्र-मंडली पेज पर ही दिखेगा, जिसका लिंक नीचे दिया जा रहा है : HTTPS://RAKESHKIRACHANAY.BLOGSPOT.IN/P/BLOG-PAGE_25.HTML मित्र-मंडली के प्रकाशन का उद्देश्य मेरे मित्रों की रचना को ज्यादा से ज्यादा पाठकों तक पहुँचाना है। आप सभी पाठकगण से निवेदन है कि दिए गए लिंक के पोस्ट को पढ़ कर, टिप्पणी के माध्यम से अपने विचार जरूर लिखें। विश्वास करें ! आपके द्वारा दिए गए विचार लेखकों के लिए अनमोल होगा। 
प्रार्थी 
राकेश कुमार श्रीवास्तव "राही"

मित्र मंडली -70   
(नोट : मेरे कई ब्लॉग अनुसरणकर्ता  मित्र का पोस्ट जो मुझे बहुत अच्छा लगता है परन्तु मैं उसे मित्र मंडली में सम्मलित नहीं करता क्यूंकि उनकी रचना पहले से ही लोकप्रिय होती है और समयाभाव के कारण मैं उनके पोस्ट पर टिप्पणी  भी नहीं कर पाता हूँ, इसके लिए मैं क्षमा प्रार्थी हूँ।), 

इस सप्ताह के पाँच रचनाकार 

सुप्रिया पाण्डेय   जी 

नदिया के दो तट

मीना शर्मा जी 

खुद से कहिये जीने का अंदाज़ बदल लें 

सतीश सक्सेना जी 

आतंकी का धर्म

पंकज भूषण पाठक जी

आशा है कि मेरा प्रयास आपको अच्छा लगेगा ।  आपका सुझाव अपेक्षित है। अगला अंक 28-05-2018  को प्रकाशित होगा। धन्यवाद ! अंत में ....


Friday, May 18, 2018

अफ़वाह


अफ़वाह 

कानों सुनी बातों का असर,
डाले ये, समझने पर असर
जगाता है झूठा अहंकार,
सजाता है नफ़रत का शहर.

आसां नहीं है सत्य का डगर, 
तय करता है ये लम्बा सफ़र,
टूटती है उम्मीदें कितनी,
शैतान इससे है बे-असर.

कानों में घोलते हैं जहर,
फैलाते हैं उन्मादी लहर,
बचना तुम ऐसे लोगों से,
नहीं तो जल जाएगा शहर.

भाईचारे पर बुरी नज़र,
जो पड़ जाए कहीं भी अगर,
समझ लेना उनकी चाल को,
उनको मिलकर बेनक़ाब कर.

पा लिया अब ज्ञान का सागर
दिखा दो अभी प्यार का मंज़र,
शैतान अंधे हो जाएँगे,
जब देखेंगे यहाँ का सहर.

-© राकेश कुमार श्रीवास्तव "राही"

Wednesday, May 16, 2018

फोटोग्राफी : पक्षी 55 (Photography : Bird 55)



PHOTOGRAPHY: (DATED 02 04 2018 08:00 AM )

PLACE : KAPURTHALA, PUNJAB, INDIA

Red-breasted flycatcher

The red-breasted flycatcher is a small passerine bird in the Old World flycatcher family. It breeds in eastern Europe and across central Asia and is migratory, wintering in south Asia. It is a regular passage migrant in western Europe, whereas the collared flycatcher which breeds further west is rare. This is because of the different migration direction.

Scientific name:  Ficedula parva
Photographer   :  Rakesh kumar srivastava

तुर्रा फ्लाईकैचर एक छोटी सी ओल्ड वर्ल्ड फ्लाईकैचर परिवार का पक्षी है। इनकी नस्लें पूर्वी यूरोप और मध्य एशिया में पाया जाता है और सर्दियों में दक्षिण एशिया में प्रवास करते है। 

वैज्ञानिक नाम: फिसेडुला परवा
फोटोग्राफर: राकेश कुमार श्रीवास्तव

अन्य भाषा में नाम:-


Hindi: तुर्रा; Assamese: গলমণিকা নাচনী; Gujarati:ચટકી માખીમાર; Malayalam:പക്കിക്കുരുവി; Marathi: तांबुला, लाल छातीची लिटकुरी, लाल छातीचा तांबुला; Punjabi: ਲਾਲ ਹਿੱਕੀ ਟਿਕਟਿਕੀ

Red-breasted flycatcher

Red-breasted flycatcher

Red-breasted flycatcher

Red-breasted flycatcher

Red-breasted flycatcher

Top post on IndiBlogger, the biggest community of Indian Bloggers


-© राकेश कुमार श्रीवास्तव "राही"

Monday, May 14, 2018

मित्र मंडली -69





मित्रों , 
"मित्र मंडली" का  उनहत्तर  वाँ अंक का पोस्ट प्रस्तुत है।इस पोस्ट में मेरे ब्लॉग के फॉलोवर्स/अनुसरणकर्ताओं के हिंदी पोस्ट की लिंक के साथ उस पोस्ट के प्रति मेरी भावाभिव्यक्ति सलंग्न है। पोस्टों का चयन साप्ताहिक आधार पर किया गया है। इसमें दिनांक 07.05.2018  से 13.05.2018 तक के हिंदी पोस्टों का संकलन है।


पुराने मित्र-मंडली पोस्टों को मैंने मित्र-मंडली पेज पर सहेज दिया है और अब से प्रकाशित मित्र-मंडली का पोस्ट 7 दिन के बाद केवल मित्र-मंडली पेज पर ही दिखेगा, जिसका लिंक नीचे दिया जा रहा है : HTTPS://RAKESHKIRACHANAY.BLOGSPOT.IN/P/BLOG-PAGE_25.HTML मित्र-मंडली के प्रकाशन का उद्देश्य मेरे मित्रों की रचना को ज्यादा से ज्यादा पाठकों तक पहुँचाना है। आप सभी पाठकगण से निवेदन है कि दिए गए लिंक के पोस्ट को पढ़ कर, टिप्पणी के माध्यम से अपने विचार जरूर लिखें। विश्वास करें ! आपके द्वारा दिए गए विचार लेखकों के लिए अनमोल होगा। 
प्रार्थी 
राकेश कुमार श्रीवास्तव "राही"

मित्र मंडली -69   
(नोट : मेरे कई ब्लॉग अनुसरणकर्ता  मित्र का पोस्ट जो मुझे बहुत अच्छा लगता है परन्तु मैं उसे मित्र मंडली में सम्मलित नहीं करता क्यूंकि उनकी रचना पहले से ही लोकप्रिय होती है और समयाभाव के कारण मैं उनके पोस्ट पर टिप्पणी  भी नहीं कर पाता हूँ, इसके लिए मैं क्षमा प्रार्थी हूँ।), 

इस सप्ताह के पाँच रचनाकार 

सुप्रिया पाण्डेय   जी 

घूँट--घूँट प्यास

अपर्णा बाजपई  जी 

"जल के अभाव में जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते। जल की महत्ता को स्थापित  करती सुन्दर रचना। "

बामुलाहिजा होशियार! जिन्ना का जिन्न!!!

विश्व मोहन जी

समग्रता की तलाश

पुरुषोत्तम कुमार सिन्हा जी 

इंतजार है इज़हार करने का गुलाब हाथ में है तसवीर ख़्वाब में है वफ़ा करने का नशा है बता तो सही तू है तो कहाँ है

सुशील कुमार जोशी  जी 


"इश्क,प्यार और मोहब्बत के शब्दों को शब्द के जादूगर उलूक ने सियासत का रंग दे दिया अब देखे उलूक को कितने लोग असहिष्णु मानते है।"

आशा है कि मेरा प्रयास आपको अच्छा लगेगा ।  आपका सुझाव अपेक्षित है। अगला अंक 21-05-2018  को प्रकाशित होगा। धन्यवाद ! अंत में ....