मेम्बर बने :-

Monday, September 24, 2012

येन केन प्रकारेण


हमको भइया सबकुछ  चाहिए ,
येन केन प्रकारेण!

गरीब को चाहिए रोटी,
पूरी करनी है ,
जरूरतें छोटी-मोटी ,
इसको भइया सबकुछ  चाहिए ,
येन केन प्रकारेण!

विद्यार्थी को चाहिए नंबर ,
रहन-सहन में आडंबर ,
इसको भइया सबकुछ  चाहिए ,
येन केन प्रकारेण!

पत्नी को चाहिए जेवर ,
पति को दिखा के अपना तेवर,
इसको भइया सबकुछ  चाहिए ,
येन केन प्रकारेण!

बाबू  हो या अधिकारी,
चाहिए महँगी गाड़ी ,
चाहे लेना पड़े रिश्वत भारी ,
इसको भइया सबकुछ  चाहिए ,
येन केन प्रकारेण!

नेता को चाहिए वोट ,
और भ्रष्टाचार से नोट,
इसको भइया सबकुछ  चाहिए ,
येन केन प्रकारेण! 

भुखमरी , बेरोज़गारी , 
रिश्वतखोरी और कालाबजारी ,
सब पे है ये भारी,
चाहे नेता हो या जनता,
गरीब हो या व्यापारी,
बाबू हो या अधिकारी ,
आओ ! इससे मुक्ति पाएँ ,
येन केन प्रकारेण!
राकेश कुमार श्रीवास्तव 

23/09/2012

                                     

Post a Comment